Breaking News

बनारस की बेटी पहुंची चंदौली के लाल के घर:-

 

दिनाँक 02।09।3018

चंदौली।न्याय मांगने से कुछ इंसाफ तो न्यायालय में मिलते हैं कुछ इंसाफ तो केवल कागज पर लेकिन यह बेटी जो अपने बाप के कारण अन्याय की शिकार हुई और बाप न्याय की लड़ाई लड़ रहा था और शिकार होना पड़ा। बेटी का एक ऐसा ही मसला बनारस गौरा कला की बेटी का है जो अपने पिता के न्याय मांगने पर खुद अपने पिता की वजह से अन्याय का शिकार हो गई पत्नी पहले ही अन्याय का शिकार हो चुकी थी ।आज पूरा परिवार पीड़ा में है न किसी जनप्रतिनिधि ने साथ दिया न किसी अखबार ने जब पता चला कि चंदौली का एक बेटा इसी तरह के इंसाफ की लड़ाई लड़ता है तो पूरा परिवार एकाएक गांव पर पहुंच गया और न्याय की गुहार लगाई चंदौली के बेटे ने संकल्प लिया कि अब तो लड़ाई आर पार की होगी चाहे परिणाम कुछ भी हो जाए। बेटी को पिता की अपने ही संस्थान में नौकरी मांगने की सजा मिली तो दूसरी संस्थान से कक्षा तीन में उसको फेल करके उसका नाम काट दिया गया ।जहां बेटी की मां को पहले ही नौकरी से निकाल दिया गया था वहीं पर पूरा परिवार आज शिक्षा और रोटी के लिए मोहताज है मामला लेबर कोर्ट में विचाराधीन है। वही ईसाई मशीनरी यह बनारस में एक मजबूत जड़ जमा चुकी है और इस ईसाई मशीनरी के स्कूल सेंट मैरी का विरोध करना इस पूरे परिवार को आज इतना महंगा पड़ रहा है कि न्याय की आस पूरी तरह से पिछले 3 वर्षों में खत्म हुई थी। लेकिन जैसे ही पता चला कि अभी भी लड़ाई लड़ने वाले लोग इस समाज में है तो पूरा परिवार भाजपा नेता अधिवक्ता शैलेन्द्र पांडेय कवि के आवास पर पहुच के न्याय की गुहार लगाई।


ताज़ा खबरों के लिए लॉगिन करें👉www.yoovabharat.com

या हमारे न्यूज़ ऐप्प को अपने मोबाइल में गूगल प्ले स्टोर से निःशुल्क डाउनलोड करें

About Rudra Pathak

Check Also

बेटीयो के न्याय के लिए समाज सेवी आये सामने….!!

Share this on WhatsApp  दिनांक 23।02।2019 चन्दौली।बलुआ थाना क्षेत्र के मुकुन्दपुर नैढी निवासी अनाथ पांच …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *